Health

एचआईवी एड्स क्या है कैसे होता है-What and how HIV

हैल्लो दोस्तों हमने आपको अपनी पिछली पोस्ट में एड्स दिवस के बारे में बताया था की एड्स दिवस क्यों मनाया जाता है, और उसकी शुरुआत कैसे हुई थी. और आज हम आपको इस पोस्ट में बताएंगे की एड्स क्या है. और एड्स से कैसे बचे. दोस्तो एड्स दुनिया की सबसे घातक बीमारी में से एक है.विश्व स्वस्थ्य संघटन के अनुसार इस रोग से लगभग हर साल 10 लाख से भी ज्यादा लोग प्रभावित होते है. एड्स एक बेहद खतरनाक बीमारी है, ये जिसे भी हो जाती है, तो उसकी मृत्यु निश्चित होती है.इस बीमारी बीमारी का अभी तक मुकम्मल इलाज संभव नहीं हो पाया है. परन्तु कुछ तरीको से इस बीमारी से बचा जा सकता है. आइये जानए उनके बारे पर इससे  पहले एड्स के बारे में भी थोड़ा जान लेते है.

एचआईवी एड्स क्या है

एड्स कैसे फैलता है 

एचआईवी (HIV) का अर्थ होता है ह्यूमन इम्यूनोडिफिशिएंसी वायरस (Human Immunodeficiency Virus)। यह वो वायरस होता है जिसके कारण किसी भी व्यक्ति को HIV एचआईवी का संक्रमण होता है। HIV शब्द उस वायरस का नाम दर्शाता है।

ये भी जाने

एड्स (AIDS) का अर्थ होता हैएक्वायर्ड इम्यूनो डेफिशियेंसी सिंड्रोम (AIDS) है. HIV मनुस्य के शरीर में घुसने के बाद में शरीर इ संग्रमण के प्रति लड़ने बाले CD 4 कोशिकाओं और प्रतिरक्षा प्रणाली को नष्ट कर देता है. और जब ये दो महत्वपूर्ण चीजे नष्ट हो जाती है, तब शरीर को कैंसर और संक्रमण जैसी बीमारियों से लड़ने की छमता खत्म हो जाती है.जैसे-जैसे यह CD 4 और Immune System को नष्ट करते चला जाता है उस व्यक्ति के शारीर में AIDS का अवस्था बढ़ने लगता है.

एड्स कैसे फैलता है

एड्स कैसे फैलता है 

यह जानना बहुत जरूरी है. की आखिर एड्स कैसे फैलता है, हम आपको बता दे की कुछ लोगो के मन में धरना ये बानी हुई है. की एड्स किसी के साथ बैठने से,छूने से,साथ खाने से.फैलता है. जो की एक दम गलत है. एड्स किसी के साथ खाने,बैठने, से नहीं होता है. बल्कि एड्स यह केवल शरीर के अंदर मौजूद तरल पदार्थ जैसे थूक, खून, और सेक्स के द्वारा निकलने वाला सेमेन से फैलता है। क्योंकि HIV वायरस शरीर के बाहर जीवित नहीं रह सकता है. आइये थोड़े विस्तार से जानते है. की एड्स कैसे फैलता है.

 वजाइनल और ओरल सेक्स

एड्स होने का मुख्य कारण साथी के साथ यौन संबंध बनाने से होता है. मतलव जब सम्भोग करते समय यौन रसों का आदान-प्रदान होता है। ऐसे में यौन रस के द्वारा एड्स वायरस आपके शरीर में प्रवेश कर सकता है और आपको एड्स रोग का शिकार बना सकता है.

रक्त संक्रमण 

आगे किसी एड्स से पीड़ित व्यक्ति का खून किसी स्वस्थ्य के शरीर में प्रवेश कर जाये तो उस स्वस्थ्य व्यक्ति को भी  एड्स हो सकता है.मतलव अगर किसी HIV/AIDS एड्स से ग्रसित व्यक्ति का खून बिना जाँच किए किसी को चढ़ा दिया जाए तो उससे भी HIV/AIDS हो सकता है.

माँ के दूध के द्वारा 

यदि जन्म देते समय माँ में HIV के वायरस मौजूद है. तो  HIV में मौजूद  वायरस बच्चे के अंदर सकता है.और यह बच्चे में स्तनपान के द्वारा भी आ सकता है.जिस कारण बच्चे में एड्स होने की सम्भावना बढ़ जाती है.

एड्स से बचने के उपाए

दोस्तों आप एड्स  ज्यादा से  है जान ही चुके है.   और हम आपको बता दे आज एड्स खतरा नौजवानो लोगो को ज्यादा है.आमतौर पर इस उम्र में योंन और नशीले पथार्थो  तलाश ज्यादा रहती है.जिस कारण आज के युवाओ में एड्स होने की सम्भावना ज्यादा रहती है.हम आपको कुछ ऐसी बाते बता रहे है. जीससे एड्स से बचा जा सकता है.

  • जीवन-साथी के अलावा किसी अन्‍य से यौन संबंध बिल्कुल भी न बनाये।
  • डिस्‍पोजेबल सिरिन्‍ज एवं सूई तथा अन्‍य चिकित्‍सीय उपकरणों का 20 मिनट पानी में उबालकर जीवाणुरहित करके ही उपयोग में ले.तथा दूसरे व्‍यक्ति का प्रयोग में लिया हुआ ब्‍लेड/पत्‍ती काम में बिलकुल भी न ले.
  • यदि एड्स का संदेह हो तो ऐसे में इसका परीक्षण अवश्य करवा लें.

नोट: एड्स से बचने के लिए 1 दिसंबर को एड्स दिवस भी मनाया जाता है. ताकि लोग एड्स के प्रति जागरूक हो सके

उम्मीद करता हूँ की एड्स के बारे में पूरी जानकारी समझ गए होंगे आपको हमारी एड्स की जानकारी कैसी लगी हमे कमेंट करते जरूर बताये। और अगर आप एड्स के बारे में कुछ और जननां चाहते है,तो कमेंट करके पूछ सकते है. और अगर एड्स के बारे में आपके पास कोई जानकारी है जो हम आपको इसमें नहीं बता पाए तो आप अपनी जानकारी को हमारे साथ जरूर साझा करे.

About the author

Arvind Kumar

Hello friends My name is Arvind Kumar. Here I write related articles on festival, Technology, Health, and Study at YourHindi.Com.

Leave a Comment