Festivals

1 जनवरी को नया साल क्यों मनाते है -Why do new year celebrate on 1 January

हैल्लो दोस्तों आपको सभी लोगो को yourhindi.com की टीम की तरफ से आप सभी लोगो के लिए नय साल की हार्दिक शुभकामनाये दोस्तों देखते ही देखते 2018 अब  को Good Bye और 2019 के Welcome का समय आ गया Friends ने साल के अगवान पर भारत सहित और कई देशो में  रेस्टोरेंट और मॉल से लेकर क्लब तक हर जगह नए साल की तैयारियां देखी जाती हैं. नया साल मतलव 1 जनवरी पर लोगो में  हर जगह एक अलग उत्साह देखने को मिलता है. परन्तु क्या दोस्तों आप जानते है. या अपने कभी सोचा की आखिर 1 जनवरी को ही नए साल के रूप में क्यों सेलिब्रेट करते है, Friends 1 जनवरी को नया साल मनाने के पीछे कई मान्यताये,और कई वजह है.जिन वजहों के कारण 1 जनवरी को ही नयी साल के रूप में भारत समेत और भी देशो में मनाया जाता है. ये भी पड़े 2019 का नया साल कैसे मनाये 

2019

So Friends आइये उन कारणों के बारे में जानते है. जिन कारणों की वजह से  1 जनवरी को ही नया साल मनाया  जाता है-

ये भी जाने

Happy new year whats app status 2019

रोमन देवता जानूस के नाम पर

ऐसा माना जाता है. की जनवरी महीने का का नाम भगवान् जानूस के नाम पर रखा गया था. मान्यताओं के अनुसार जानूस दो मुख बाले देवता थे. उनका एक सर आगे और एक सर पीछे था. जिस कारण होने बीते हुए कल और आने बाले कल के बारे में सब कुछ पता रहता था. इसलिए जानूस देवता के नाम पर जनवरी को पहला दिन माना गया था और 1 जनवरी को नये साल का जश्न मनाया जाने लगा.

रोमन देवता जानूस के नाम पर

बादशाह जूलियर द्वारा बनवाये गए कैलेंडर के कारण

माना जाता है, की रोम के बादशाह जूलियर सीजर ने एक 45 ईसा पूर्व एक जूलियन कैलेंडर की स्थापना की थी  तब विश्व में पहली बार 1 जनवरी को नये साल के उत्सव में मनाया गया था. हलाकि इसके पीछे कई खगोलीय कारण भी है. दरासल इस दौरान पृथ्वी अपने कक्ष के आस-पास घूमती है.जिस वजह से वो सूर्य के बेहद करीब होती है.इस घटना को ग्रहांक कहा जाता है. इसलिए लिए इसे साल की शुरुआत का दिन माना जाता है. और 1 जनवरी को नए साल के रूप में मनाया जाता है.

बादशाह जूलियर द्वारा बनवाये गए कैलेंडर के कारण

दिसंबर का आखरी दिन 

1 जनवरी को नए साल के रूप में मनाने के पीछे एक ये भी कारण है. की 31 दिसंबर को साल का सबसे छोटा दिन होता है, और उसके बाद आने बाला दिन लम्बे होते इसलिए 1 जनवरी को साल का पहला दिन माना जाता है और 1 जनवरी से ही साल की शुरुआत मानी जाती है. परन्तु दुनिया में सबसे पहले  न्यू ईयर सेलिब्रेशन 23 मार्च 2000 बीसी को मनाया गया था. हालाँकि ये जरुरी नहीं है कि दुनिया के सभी देशों में 1 जनवरी को ही नया साल मनाया जाता हो इजिप्ट और पर्सिया जैसे देशों में 20 सितम्बर को नया साल मनाया जाता है.

भारत में नववर्ष

भारत में नववर्ष अलग-अलग तिथियों को मनाया जाता है.जैसे की पंजाब में न्य साल बैशाखी के नाम 13 अप्रैल को मनाया जाता है.गुजरती नया साल दिवाली के रूम में मनाते है. और वही  इस्लामिक कैलेंडर का नया साल मुहर्रम होता है.इस्लमिक कैलेंडर एक पूणतया चंद्र पर आधारित कैलेंडर होता है. जिसके कारण इसके बारह मासो का चक्र 33 बर्षो में सौर कैलेंडर को एक बार घूम लेता है.

new year 2019

 

So Friends कहने का मतलव 1 जनवरी को नए साल के उत्सव के रूप में मनाये जाने के कई अलग -अलग कारण है.इतिहास  खास वजह के कारण ही 1 जनवरी को नया साल मनाया जाता है.

I Hope Friends  की आपको 1 जनवरी को New  year के रूप में क्यों Celebrate करते है. इसके बारे में उचित जानकारी मिल गयी होगी friends आपको हमारी 1 जनवरी को New Year क्यों मनाते है, जानकारी कैसी लगी हमे कमेंट करके जरूर बताये। और हा Please इस जानकारी को अपने दोस्तों के साथ Facebook. Whats app पर जरूर शेयर करे ताकि उन्हें भी पता चल सके की New Year क्यों मनाते है.

About the author

Arvind Kumar

Hello friends My name is Arvind Kumar. Here I write related articles on festival, Technology, Health, and Study at YourHindi.Com.

Leave a Comment