Health

कान दर्द का घरेलू उपाय Home remedy for ear pain

 कान का दर्द से बचने के उपाए: दोस्तों बहुत से लोगों के लिए कान का दर्द आम बात हो। लेकिन कई बार यह कान का दर्द गंभीर हो जाता है। यह दर्द तेज, पुराना, हल्का, असहनीय और कई तरह का हो सकता है.कान में कई बार पानी या धूल मिट्टी चले जाने से फंगस जमनी शुरू हो जाती है। जो धीरे-धीरे इंफैक्शन का कारण बनती है। इससे सिर दर्द,बेचैनी,और कान में असहनीय दर्द होने लगता है.कई बार ये दर्द इतना बढ़ जाता है कि खाना-पीना, उठना-बैठना यहां कि आराम से सोना तक दूभर हो जाता है। कान में दर्द होने के कई कारण हो सकते है जैसे इन्फेक्शन, कान में फुंसी निकलने, कान पर चोट लगने और सर्दी के कारण आदि, कई बार तो रात के समय यह दर्द अचानक उठ जाता है, जिससे सहन करना मुश्किल हो जाता है। ऐसे में कुछ घरेलू उपायों की मदद से राहत पा सकते हैं। आइए जाने कौन से हैं ये उपाय।

कान दर्द का घरेलू उपाय Home remedy for ear pain

 कान के दर्द के कारण

  • कान में दर्द होने के अनेक कारण हो सकते हैं, लेकिन सबसे अधिक कान में दर्द सर्दी लगने से होता है.
  • किसी कीड़े मकोड़े के कान में घुस जाने से दर्द होने लगता है.
  • आमतौर पर हम मानते हैं कि कान में दर्द संक्रमण के कारण होता है.
  • कई बार साबुन या शैम्‍पू के कान में रह जाने से भी कान में दर्द होने लगता है.
  • कई बार देर तक तैरने से कान में पानी भर जाने से भी कान में दर्द हो जाता है.
  • चिकित्सा विशेषज्ञों के अनुसार कान में दर्द वात, पित्त, कफ की खराबी के कारण भी हो सकता है.

 कान के दर्द का घरेलु उपाए 

नीम के पत्ते 

अगर आपके कान में दर्द रहता है तो नीम का तेल इस्तेमाल करना काफी फायदेमंद रहेगा। कई लोगों में कान बहने की भी बीमारी होती है, ऐसे लोगों के लिए भी नीम का तेल एक कारगर उपाय है.नीम के पत्तो की रस की दो या तीन बूंदे कान  में डालने से भी कान के दर्द में जल्दी राहत मिलती है. रुई की मदत से तेल को आप कान में डाल सकते है।

लहसुन

इसमें एंटीबायोटिक और एंटीसेप्टिक गुण होते हैं जो दर्द और इंफेक्शन को दूर करते हैं। सरसों के तेल में लहसुन को गर्म करें। इसके बाद उसे ठंडा होने पर कानों में 2-3 बूंद डालें। इस देसी नुस्खे से कण दर्द में जल्दी आराम मिलता है.

2018 आयुष्मान भारत योजना हिंदी में सम्पूर्ण जानकारी

प्याज और अदरक

प्याज को काटें, पीसें और एक पतले साफ़ कपड़े में कस कर पोटली बना लें। पोटली को कान पर रखें और करवट लेट जाएँ इससे आपको कान के दर्द राहत  मिल जाएगी, इसके अलावा आप प्याज का रस निकाल कर इसकी 1-2 बूंद कान में डाल लें। इससे दर्द से आराम मिलेगा।।

सरसों का तेल

सरसों का तेल किसी भी तरह के इंफैक्शन में रामबाण है। कान दर्द होने पर तेल सरसों का तेल 10 ग्राम लेकर उसमें हींग 3 ग्राम मिलाकर गर्म करें। फिर इस तेल को बूंद-बूंद कान में डालने से कान का दर्द ठीक हो जाता है.

अदरक 

अदरक में भी कई औषधीय गुण पाई जाती है. इसलिए इसका उपयोग कई परेशानियों को दूर करने के लिए किया जाता है.इसलिए अदरक का रस 5 ग्राम, शहद 5 ग्राम, सेंधा नमक 5 ग्राम को तिल के 10 ग्राम तेल में मिलाकर 25 मि.ली पानी के साथ आग पर गर्म करें। पानी के ठंडे हो जाने पर उस तेल की बूंद-बूंद कान में डालने से कानदर्द ठीक होती है.

पिपरमेंट 

पिपरमेंट का तेल व् उसकी उसकी पट्टी दोनों ही कान दर्द के लिए बहुत उपयोगी होती है.ये कान के अंदर होने बाली अजीव सी आवाज को दूर करता है.इसलिए अगर कान में दर्द हो तो पिपरमेंट की तजि पत्तियों को  रस ड्राप की सहायता से कान में डाले। इसे कान के अंदर न डाले।आप इसे ओलिव आयल या सरसो के आयल में मिलकर डाल सकते है.

नोट: हमारे द्वारा बताये गए उपाए से आप आसानी से अपने कान के दर्द से राहत प् सकते है, लेकिन इन उपाए का इस्तेमाल करने के साथ -साथ एक बार डॉक्टर से भी सलाह जरूर ले.

उम्मीद करता हूँ की कान के घरेलु उपाए आपके लिए लाभदायक साबित हुए होंगे। अगर आप इसके बारे में और कुछ पूछना चाहते है तो हमे कमेंट करके पूछ सकते है. आपको पोस्ट कैसी लगी हम जरूर बताये।

About the author

Arvind Kumar

Hello friends My name is Arvind Kumar. Here I write related articles on festival, Technology, Health, and Study at YourHindi.Com.

1 Comment

Leave a Comment