Festivals

जानिए मदर्स डे कब क्यों और कैसे मनाया जाता है-Why is Mother’s Day celebrated in hindi

स्वागत है आपका अपनी साइट Yourhindi.com दोस्तों आज हम आपको इस पोस्ट में बताएंगे की मदर्स डे कब क्यों और कैसे मनाया जाता है.

Mother’s Day दोस्तों हम आपको पहले ही अपनी पुरानी पोस्टो में बता चुके है, की भारत में कोई भी Festival हो या कोई भारत का दिन हर किसी के किसी न किसी तरह का इतिहास जरूर जुड़ा होता है. बैसे ही मदर्स डे के पीछे भी इतिहास की कहानिया प्रचलित है. जिनके बारे में हम आज इस पोस्ट में विस्तार से जानेगे तो आइये ज्यादा समय ख़राब न करते हुए हम जानते है, की आखिर मदर्स डे कब, क्यों और कैसे मनाया मनाया जाता है.

ये भी जाने

जाने कब और क्यों मनाया जाता है फादर्स डे

मदर्स डे कब मनाया जाता है-(When is Mother’s Day celebrated)

सबसे पहले हम आपको बता दे की मदर डे मानने का कोई भी निश्चित समय नहीं है, इसे अलग अलग देशो में अलग अलग तारीख में मनाया जाता है. कुछ देशो में ये मार्च में मनाया जाता है तो बही कुछ देशो में मई के महीने में मनाया जाता है. परन्तु इस बार भारत में 2019 में मई 12 रविवार का मनाया जायेगा इस दिन खास तौर पर अपनी माँ के प्रति कृतज्ञता व्यक्त कर उनके  प्यार  और स्नेह देने के लिए धन्यवाद करने का दिन है.

ये भी पड़े– Happy mothers day whatsapp status & shayari in hindi

मदर्स डे क्यों मनाया जाता है-( Why is Mother’s Day celebrated)

मदर्स डे प्रत्येक बर्ष माँ के प्यार के सम्मान प्रति  मनाया जाता है.मदर्स डे  को यह अवसर प्रदान करता है,की वो अपनी माँ को उनको जन्म देने,उनकी सुरक्षा और देखभाल करने के लिए उनका धन्यबाद करे.मदर्स डे की शुरुआत प्राचीन यूनान और रोम के समय से देखि जा सकती है.मदर डे का इतिहास यूके में मनाये जाने वाले mothering Sunday में भी देखा जा सकता है. लेकिन आज जो मदर डे मनाया जाता है उसकी शुरुआत में कुछ मुख्य महिलाओ ने प्रमुख भूमिका निभाई. इनमे जूलिया वार्ड हॉवे (Julia ward Howe) और एना जारविस (Anna Jarvis) का नाम शामिल है.

मदर्स डे का इतिहास-(History of Mother’Day)

मदर्स सन्डे का इतिहास:माना जाता है की ईसाइयों ने लेंट के चौथे रविवार के त्यौहार के दिन ईसा मसीह की माता को सम्मानित करके मदर डे मनाया गया था.इसमें इंग्लैंड की माताओ को शामिल किया गया था.तभी से इसे Mothering Sunday भी  कहाँ गया.माथेर डे का इतिहास 1600 ईस्वी में इंग्लैंड में मनांए जाने बाले Mothering Sunday से जुड़ा हुआ है.यह लेंट के चौथे रविवार को मनाया जाता है.इस अवसर पर बच्चे अपनी माताओ को उपहार देते है.और उनका शुक्रिया अदा करते है. 19वी शताब्दी तक mothering Sunday मनाना बंद हो गया और ये दोबारा दुसरे विश्व युद्ध के बाद ही शुरू हो पाया.

ये भी पड़े

Friendship Day कब क्यों और मनाया जाता है

एना जारविस -(Anna Jarvis): Anna Jarvis को US मदर्स डे के संस्थापक के रूप में जाना जाता है.इन्हे मदर ऑफ़ मदर्स डे भी कहा जाता है.Anna Jarvis ने माताओं को सम्मान दिलाने के लिए बहुत मेहनत की थी Anna Jarvis ने विवाह भी नहीं किया था इन्हे मदर डे मानाने की प्ररेणा अपनी माँ से मिली थी जारविस ने माना की माँ अपने बच्चो के लिए काफी बलिदान देती है इसलिए उनका सम्मान होना चाहिए.उन्होंने 1908 में Grafton की Methodist church में पहला अधिकारिक मदर डे मनाया. हजारो लोगो ने इस कार्यकर्म में भाग लिया इसे और ज्यादा बढ़ाबा देने के लिए इन्होने Mother Day International Association की स्थापना की. और उन्हें इसकी कामयाबी तब मिली जब 1914 अमेरिका के राष्ट्रपति वुडरो विल्सन ने मई के दुसरे रविवार को mothers day मनाये जाने की घोषणा की.

ग्रीक और रोम: मदर डे का प्रारंभिक इतिहास प्रचीन यूनान में मनाये जाने बाले त्यौहार प्राचीन बार्षिक वसंत त्यौहार में देखा जाता है.जो की मातृदेवी को समर्पित था.यूनानी इस अवसर पर क्रोनस की पत्नी रिहा  जो की यूनानी कथाओ के अनुसार कई देवी देवताओ की माता थी उनको सम्मानित करते थे.माना जाता है, की तभी से यूरोप में माताओ को सम्मान देने की नींव पड़ी और उसे मदर डे के रूप में मनाने लगे.

मदर्स डे कैसे मनाये-(How to celebrate mother’s day)

मित्रो मदर्स डे  भारत सहित पूरी दुनिया बड़े धूम धाम से मनाया जाता है.बैसे हम आपको बता दे की आज की इस भागदौड़ बलि ज़िंदगी में आज के युवाओं को अपनी माँ के साथ समय बिताने का समय नहीं मिलता है. और जो लोग शादी के बाद अपनी माँ से दूर चला जाता है.  ऐसे युवाओं को अपनी माँ के साथ मदर्स डे पर  अपनी माँ के साथ बिताये हुए बचपन के लम्हों को याद कर उनके साथ समय बिताने का सुनहरा मौका है बैसे दोस्तों माँ के प्रति प्यार जताने के लिए कोई भी दिन विशेष नहीं होता है.लेकिन फिर भी मदर डे पर सभी को अपनी माँ के साथ विशेष समय जरूर बिताना चाहिए,जिससे सभी लोग अपनी माँ को ढेर सारी खुशियां दे सकते है.और उनके चेहरे पर एक अलग मुस्कान देख सकते है.आइये हम आपको बताते है कि किस तरह Mothers Day पर आप अपनी माँ के चेहरे पर मुस्कान ला सकते है और पानी माँ को खुस कर सकते है.

सुबह का नाश्ता खुद बनाये:बैसे तो हर किसी की माँ सुबह जल्दी से नाश्ता तैयार करके अपने बच्चो को उठती है, लेकिन इस शुभ अवसर पर आप जल्दी उठकर अपनी माँ के लिए उनका पसंदीदा नाश्ता तैयार करे. और एक बात यद् रखे की माँ के उठने से ही ये सब तैयार कर ले.और जब उन्हें आप मदर्स डे के बारे में बताएँगे तो वो या तो भावुक हो जायेगी या बहुत खुश होगी कि उनका बेटा/बेटी भी उनका ख्याल रखते है.

मदर डे पर माँ को पिकनिक पर ले जाये: हर माँ के लिए सबसे अच्छा पल अपने बच्चो के साथ बिताये गए होते है, इसलिए मदर डे पर अपनी माँ को पिकनिक पर ले जरूर ले जाये। जिससे आपका उनके साथ कुछ समय बिताने का समय भी मिल जायेगा  इससे आपकी माँ के साथ आपका प्यार ओर बढ़ेगा  अगर आप ज्यादा दूर न्हीए जा सकते हो तो शाम को माँ के साथ नजदीकी पार्क में जाये , माल में जाये या माँ को कोई अच्छी सी फिल्म दिखाए  इस तरह आप अपनी माँ को खुश कर सकते है.

आशा करता हूँ की आपको हमारी पोस्ट मदर्स डे कब क्यों और कैसे मनाया जाता है में मदर्स डे के बारे में पूरी जानकरी मिल गयी होगी दोस्तों आपको हमारी मदर्स डे कब क्यों और कैसे मनाया जाता है पोस्ट कैसी लगी हमे कमेंट करके जरूर बताये और हा इस पोस्ट अपने दोस्तों के साथ फेसबुक व्हाट्सप्प पर जरूर साझा करे. जिससे आपके दोस्त और परिवार बालो को नहीं मदर्स डे के इतिहास के बारे में जानकारी मिल सके

About the author

Arvind Kumar

Hello friends My name is Arvind Kumar. Here I write related articles on festival, Technology, Health, and Study at YourHindi.Com.

Leave a Comment